Advertisements
Advertisements
Advertisements
Homeइनफार्मेशनलResume क्या होता है | Resume Kya Hota Hai

Resume क्या होता है | Resume Kya Hota Hai

Advertisements

Resume क्या है, Resume कैसे बनाये, Resume क्यों जरूरी है, Resume के कितने प्रकार होते है, Resume कहाँ दिया जाता है, Resume और CV क्या अंतर है ( Resume Kya Hai, Resume Kaise Banaye, Resume Kyu Jaruri Hai, Resume Ke Prakar, Resume Aur CV Me Antar, Resume Kya Hota Hai)

नौकरी पाने के लिए हमें Resume या Curriculum Vitae की जरूरत पड़ती है, चाहे हम Freshers हो या Experienced Professional हो. किसी भी तरह का Job हो चाहे वह Academic हो या Non-Academic हो या फिर Private Company की Job हो या Multi National Company की Job हो हमें Resume या Curriculum Vitae की जरूरत पड़ती है. यूं कहें कि हर जगह नौकरी पाने के लिए Resume और CV की जरूरत होती है. किसी भी कंपनी में जब Vacancy निकलती है तो Candidates के Selection का सबसे पहला Stage Resume होता है. (डाटा एंट्री जॉब क्या है)

उस पोस्ट के लिए जिसके लिए Vacancy निकली है Candidates को उनका Resume मंगाया जाता है और उनके Resume के आधार पर ही Company Recruiters तय करते हैं कि उन्हें उस Candidate को नौकरी पर रखना है या नहीं. अधिकांश Candidates Resume और CV को एक ही मानते हैं जबकि यह दोनों अलग अलग होता है. कई Candidates ऐसे होते हैं जो हर Company में हर Job Position के लिए एक ही Resume या CV भेजते हैं, जिससे उनका Resume पढ़ा नहीं जाता है और उन्हें नौकरी मिलने के Chances कम हो जाते हैं. Resume और Curriculum Vitae दोनों का उद्देश्य एक ही होता है लेकिन यह दोनों काफी अलग होते हैं. इस आर्टिकल के जरिए हम आपको बताएंगे कि Resume क्या होता है.

Resume क्या होता है (Resume Kya Hota Hai)

किसी भी Company में Job के लिए Apply करने के लिए Resume की जरूरत पड़ती है. Resume एक ऐसा Document है जिसमें आपके Education, Skills, Work Experience, Achievements की जानकारी होती है  किसी भी Company में Apply करने के लिए Resume में को उस Company के HR Manager को भेचना पड़ता है. इसमें आपकी शिक्षा, योग्यता, कार्य अनुभव, अचीवमेंट्स की जानकारी दी होती है. यह बहुत बड़ा नहीं होता है, इसे एक या दो पेज का बनाना चाहिए. Resume में उन चीजों की जानकारी देनी चाहिए जो उस Job Position के लिए जरूरी हो.

इसमें हर जानकारी Short में दी जाती है. Job Profile के हिसाब से Resume को Change किया जा सकता है. यह Candidate के Professional Profile का Snapshot होता है. Resume Interview तक पहुंचने की एक सीढ़ी होती है, जिसके आधार पर Candidates को Interview के लिए Shortlist किया जाता है.

Resume Kya Hota Hai

एक Study के मुताबिक, किसी भी Company के Recruiters किसी भी Candidate के Resume को पढ़ने में औसतन 6 सेकंड का समय देते हैं. वह 6 सेकंड में ही तय कर लेते हैं कि उस Resume को Interview के लिए Shortlist करना है या नहीं. इसीलिए कहा जाता है कि Resume को हमेशा छोटा बनाना चाहिए. इसे एक या दो Page से ज्यादा नहीं बनाना चाहिए. Resume ऐसा होना चाहिए कि Recruiters उसे देखते ही प्रभावित हो जाए और आपको Interview के लिए Shortlist कर ले  अधिकांश लोगों को यह पता नहीं होता है कि एक अच्छा Resume कैसे बनाते हैं. Resume बनाना भी एक Art है.

यदि Job Eligibility के हिसाब से आप में सारे गुण और योग्यता है उस Job को Apply करने के लिए, लेकिन आपका Resume अच्छा नहीं है तो आपकी सारी योग्यता किसी काम की नहीं है. अगर आपका Resume अच्छा नहीं होगा तो Recruiters बिना पढ़े ही आपको Interview के लिए Select नहीं करेगा. Resume को हम Sale Later या Advertisement भी कह सकते हैं, जो हमारी योग्यता और गुण को प्रभावशाली ढंग से Interviewer के सामने पेश करता है. इसके के Pattern को समझने के लिए हमने नीचे कुछ Example दिए हैं-

Resume के प्रकार क्या है (Resume Ke Prakar Kya Hai)

इसे 4 प्रकार के होते हैं-

1. Functional Resume
2. Targeted Resume
3. Chronological Resume
4. Combination Resume

Resume क्यों बनाया जाता है (Resume Kyu Banaya Jata Hai)

किसी भी Company की जब कोई Vacancy आती है तो Company उस Vacancy के लिए Job Profile,  Role,  Responsibility, Eligibility, Qualification के लिए Ads निकालती है, फिर उस कंपनी का HR Manager Interview से पहले Candidate से Resume मांगता है. HR Manager Resume के आधार पर ही Candidate को उस Job Profile के (Resume Kya Hota Hai) Short List करता है. वह देखता है कि उस Candidate में वह योग्यताएं, कार्यकुशलता, अनुभव है या नहीं जो उस Job Position के लिए आवश्यक है.

यह सारी जानकारियां HR Manager को Resume से ही पता चलती है. इसके आधार पर ही HR Manager Candidate को Interview के लिए बुलाता है. अगर कोई भी Candidate किसी भी Company में बिना Vacancy जाने ही Interview देने चला जाए और वहां जाकर उसे पता चले कि वह Vacancy उसके योग्यता के हिसाब से नहीं है तो ऐसे में वह कंपनी और अपना दोनों का समय बर्बाद करता है. Résumé आधार पर Candidates को Short List करने में Candidate और Recruiters दोनों का फायदा है और दोनों का समय बचता है.

Resume कहाँ दिया जाता है (Resume Kaha Diya Jata Hai)

यह सभी तरह की Business, Private Jobs, Multi National Jobs, Industry, Non- profit Job और Government Job के लिए दिया जाता है.

Resume क्यों जरूरी है (Resume Kyu Jaruri Hai)

यह एक ऐसा Tool है जो आपके Prospective Employer के सामने आपका अनुभव, कार्यकुशलता, योग्यता, उपलब्धियों को प्रभावी तरीके से पेश करता है. लेकिन कुछ लोग यह मानते हैं कि Resume Interviewer के लिए बुलाने के लिए एक Document है, जबकि यह Recruiter के सामने आपको Introduce करता है, उन्हें Impress करता है और उनके सामने आपके Career के Snapshot को प्रस्तुत करता है. किसी भी नई Job, नई Opportunity Interview के लिए Resume सबसे जरूरी Document है. इसकी मदद से ही Recruiter हजारों लोगों के बीच सही Candidate को चुनता है. किसी भी Organization में घुसने की पहली सीढ़ी Resume में होती है. यह Candidates और Recruiter को आमने सामने लाता है.

Resume और CV में अंतर (Resume Aur CV Me Antar)

आधार Resume CV
लंबाई एक से दो पेज मुख्यतः दो पेज से ज़्यादा
केंद्र Professional Skill पर केंद्रित Career पर केंद्रित
संपर्क विवरण मुख्यतः Phone Number और Email Id संपर्क करने के कई माध्यम
कार्य अनुभव जो नौकरी से जुड़ा हो लगभग सभी कार्य अनुभव का ब्योरा
घटनाक्रम जानकारी देने का कई तरीका सभी जानकारी Chronological Order में
उपयोगिता मुख्यतः IT सेक्टर के नौकरी के लिए शैक्षणिक विभाग और मैनेजर पद की नौकरी के लिए

Resume बनाने के Tips (Resume Banane Ke Tips)

1. यह छोटा, सरल और प्रभावशाली होना चाहिए.
2. जिस Job Profile के लिए Resume भेजना है, उसी से संबंधित Eligibility, Qualifications, Work Experience, Skills और Keywords होनी चाहिए.
3. इसे Company और Job Profile के हिसाब से Customize करना चाहिए.
4. Grammatical Mistakes और Spelling Errors नहीं होना चाहिए.
5. रिज्यूमे दो पेज से ज्यादा नहीं होना चाहिए.
6. इसमें दी गई हर जानकारी बिल्कुल सत्य होना चाहिए.
7. इसमें कभी भी कोई Personal Details जैसे Religion, Age, Marital Status, Birthday, Sex, Father Name आदि नहीं होना चाहिए.
8. इसमें Awards, Honors, Publications, Presentations, Experience, Assistant-ship Grants या उन अनुभव और जानकारी को शामिल करें जिसकी Job में जरूरत हो.

Resume में क्या जानकारी होनी चाहिए (Resume Me Kya Jankari Honi Chahiye)

1. Contact Details
2. Career Objective
3. Work Experience
4. Educational Qualification
5. Skill & Strength
6. Additional Courses


ये भी पढ़ें-
Instagram Account Verify Kaise Kare
How to get small business loans in USA
Tiger shroff Biography
Virat Kohli Hair Style

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

%d bloggers like this: