Advertisements
Advertisements
Advertisements
Homeबायोग्राफीSania Mirza Biography in Hindi | सानिया मिर्ज़ा का जीवन परिचय

Sania Mirza Biography in Hindi | सानिया मिर्ज़ा का जीवन परिचय

सानिया मिर्ज़ा का जीवन परिचय, सानिया मिर्ज़ा का परिवार,उम्र,प्रारंभिक जीवन,शिक्षा,करियर,शोएब मालिक से शादी,सानिया मिर्ज़ा के अवार्ड्स,पसंदीदा चीज़ें,नेट वर्थ,विवाद,रिटायरमेंट(Sania Mirza Biography in Hindi, Sania Mirza Family, Age, Early Life, Education, Career, Marriage to Shoaib Malik, Sania Mirza Awards, Favorite Things, Net Worth, Controversies, Retirement)

Advertisements

Sania Mirza Biography in Hindi,सानिया मिर्ज़ा सिंगल और डबल टेनिस खेलने वाली बेस्ट प्लेयर हैं. उन्होंने कई चैंपियनशिप अपने नाम की है और भारत की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में खुद को नंबर एक पर रखा है. सानिया मिर्ज़ा का नाम 50 के अंदर की वर्ल्ड रैंकिंग में भी दर्ज किया गया है. खेल जगत में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए भारत सरकार द्वारा उन्हें पद्मश्री अवार्ड भी दिया जा चुका है. सानिया सिर्फ खेल जगत में काफ़ी लोकप्रिय नही हैं बल्कि ग्लेमर की दुनिया में भी काफ़ी चर्चित हैं. वह अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर भी काफ़ी एक्टिव रहती हैं. वह कई टीवी शो में भी बतौर गेस्ट के रुप में आ चुकी हैं. इसके साथ ही कई एडवर्टाइजमेंट में भी काम कर चुकी हैं.

सानिया मिर्ज़ा की जीवनी (Sania Mirza Biography in Hindi)

पूरा नाम  सानिया मिर्ज़ा 
निकनेम  सानिया 
प्रोफेशन  टेनिस खिलाड़ी 
जन्मतिथि  15 नवंबर, 1986 
उम्र  35 वर्ष 
जन्म स्थान  मुंबई, महाराष्ट्र, भारत 
राशि  वृश्चिक 
नागरिकता  भारतीय 
होमटाउन  हैदराबाद 
स्कूल  नसर स्कूल, हैदराबाद 
कॉलेज/यूनिवर्सिटी  सेंट मैरी कॉलेज, हैदराबाद 
शैक्षिक योग्यता  ग्रेजुएट 
धर्म  इस्लाम 
वैवाहिक स्थिति  वैवाहिक 
शादी की तारीख़  12 अप्रैल, 2010 

सानिया मिर्ज़ा की शारीरिक संरचना (Physical Appearance of Sania Mirza)

लम्बाई 5’6 ” फीट
वजन 57 किग्राo
शारीरिक बनावट 36-26-36
आँखों का रंग डार्क ब्राउन
बालों का रंग डार्क ब्राउन

सानिया मिर्ज़ा का प्रारंभिक जीवन (Sania Mirza Early Life)

महाराष्ट्र के मुंबई में सानिया मिर्ज़ा का जन्म 15 नवंबर 1986 को हुआ था. इनके पिता का नाम इमरान मिर्ज़ा है, जो पहले एक स्पोर्ट्स रिपोर्टर थें. फिर उन्होंने प्रिंटिंग का बिजनेस शुरू किया था. उनकी मां नसीमा प्रिंटिंग के बिजनेस में काम करती थीं.

सानिया मिर्ज़ा का परिवार (Sania Mirza Family)

माता नसीमा मिर्ज़ा
पिता इमरान मिर्ज़ा
बहन अनम मिर्ज़ा
पति शोएब मलिक
बेटा इज़हान मिर्ज़ा मलिक

इनके जन्म के कुछ समय बाद ही सानिया का परिवार हैदराबाद चला गया था. जहां सानिया और उनकी छोटी बहन अनम का पालन-पोषण हुआ. सानिया ने 6 साल की आयु से टेनिस खेलना शुरू कर दिया था(Sania Mirza Biography in Hindi). शुरू में टेनिस का प्रशिक्षण सानिया को अपने पिता से ही मिला था और बाद में सानिया को रॉजर एंडरसन ने प्रशिक्षित किया था. सानिया ने बाद में सीनेट टेनिस अकैडमी सिकंदराबाद और अमेरिका के टेनिस अकादमी जैसे संस्थानों से टेनिस की ट्रेनिंग ली.

Advertisements

सानिया मिर्ज़ा की शिक्षा (Sania Mirza Education)

सानिया ने हैदराबाद के नासर स्कूल में जाना शुरू किया और बाद में बस सेंट मैरी कॉलेज से ग्रेजुएट हुई. 11 दिसंबर 2008 को सानिया ने m.g.r. एजुकेशनल एंड रिसर्च इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी चेन्नई से अपनी डॉक्टरी की उपाधि प्राप्त की सानिया एक बेहतर टेनिस खिलाड़ी होने के साथ-साथ एक कुशल स्विमर भी हैं.

Sania Mirza Biography in Hindi

सानिया मिर्ज़ा का करियर (Sania Mirza Career)

सानिया एक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी हैं. यह भारत की नंबर एक टेनिस खिलाड़ी हैं. इन्होंने अपने करियर के सफर में 6 ग्रैंडस्लैम हासिल किए हैं. यह सिंगल और डबल दोनों में ही पहले स्थान पर रह चुकी हैं. सानिया का टेनिस करियर काफ़ी दिलचस्प रहा है.

– 6 वर्ष की आयु में सानिया ने टेनिस का प्रशिक्षण लेना शुरू किया. शुरुआत में इनके पिता नहीं इन्हें प्रशिक्षण दिया

– इन्होंने टेनिस के लिए देश-विदेश से प्रशिक्षण लिया और अपनी कला को आगे पहुंचाया. सानिया की टेनिस प्रशिक्षण के पहले शिक्षक महेश भूपति हैं. इन्होंने अपने खेल से कई ख़िताब जीते और भारत का नाम रोशन किया.

-साल 1999 में जकार्ता में विश्व जूनियर चैंपियनशिप में अपना पहला अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट खेला और भारत का प्रतिनिधित्व किया था.

– इन्होंने 2003 में विंबलडन चैंपियनशिप गर्ल्स डबल्स खिताब जीता और 2003 में यूएस ओपन गर्ल्स डबल्स के सेमीफाइनल में भी पहुंची.

– 2002 में एशियाई खेलों में मिक्स युगल स्पर्धा में लिंडर पेस के साथ कांस्य पदक जीतने में मदद की.

– 2003 में इन्होंने एफ्रो एशियाई खेलों में 4 स्वर्ण पदक जीते और इसके तुरंत बाद ही साल 2004 में इन्होंने 6 आईटीएफ एकल खिताब जीता.

– सानिया ने 2005 में ऑस्ट्रेलियाई ओपन में जाने के बाद पहले और दूसरे राउंड में पेट्रो मंडोला और सिंडी वाटसन को हराया और इसी वर्ष टेनिस ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के तीसरे और चौथे राउंड में पहुंचकर टेनिस की दुनिया में अपने नाम को रोशन किया.

– 2006 के ऑस्ट्रेलियाई ओपन में डबल ख़िताब जीता. इसके बाद इन्होंने दुबई टेनिस चैंपियनशिप में खेला लेकिन मार्टिना हिंगिस से पराजित हो गई.

– एशियाई खेलों में मिश्रित डबल में गोल्ड पदक जीता और महिला सिंगल और टीम में रजत पदक जीता.

– 2007 इन के करियर के लिए टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ. इन्होंने सिंगल रैंकिंग में विश्व में 27 वें नंबर पर अपनी जगह बनाई. इसी वर्ष इन्होंने चार डबल्स खिताब जीते.

– इसके बाद उन्होंने पेस के साथ एशियाई खेलों में भाग लिया और कांस्य पदक जीता. इसके बाद इन्होंने 13 वर्षीय रूसी खिलाड़ी एलिसा क्लेबानोवा के साथ गूगल जूनियर टूर्नामेंट में ग्रैंड स्लैम का ख़िताब अपने नाम किया. सानिया अब तक 21 आईटीएफ ख़िताब जीत चुकी हैं.

– 2008 में चोट लगने के कारण यह खेलने में असमर्थ थीं. उन्हें फ्रेंच ओपन और ऑस्ट्रेलियन ओपन टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा. इसके बाद 2009 में दोबारा वापस आकर आस्ट्रेलियाई ओपन में महेश भूपति के साथ मिक्स्ड डबल्स में पहला ग्रैंड स्लैम का ख़िताब जीता.

– साल 2011 में सिंगल स्पर्धा में खराब परफॉरमेंस के कारण वे पहले दौर से बाहर हो गयीं. इन्होंने डबल्स स्पर्धा में अधिक ध्यान दिया और 2011 में  अपनी साथी एलीना वेसनीना के साथ फ्रेंच ओपन में फाइनल में पहुंची.

– 2013 में सानिया और मैटेक सैंड्स ने दुबई ड्यूटी फ्री टेनिस चैंपियनशिप का खिताब जीता, लेकिन इन्हें ग्रैंडस्लैम नहीं मिला. फिर इन्होंने दूसरी साथी कारा ब्लैक के साथ खेलना शुरू किया और इनके इस जोड़ी ने स्पर्धा में कमाल कर दिया.

– 2014 में सानिया और कारा यूएस ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचे और ब्रूनो सोरेस के साथ मिश्रित डबल्स खिताब जीता इसी वर्ष इन्होंने इंटरनेशनल प्रीमीयर टेनिस लीग में भाग लिया और इस लीग में विजय हासिल की.

– सानिया मिर्ज़ा ने 2015 में चीनी खिलाड़ी हसिह सी वेई के साथ मिलकर और फिर बेथानी मेटेक सैंड्स के साथ मिलकर काम किया. मार्टिना हिंगिस के साथ इनकी पार्टनरशिप सही साबित हुई और इस जोड़ी ने इंडियन वेल्स और 2015 मियामी ओपन में जीत को अपने नाम किया.

– साल 2016 में सानिया और हिंगिस की जोड़ी ने ऑस्ट्रेलियाई ओपन महिला युगल चैंपियनशिप में जीत हासिल की, लेकिन 2017 में इन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

सानिया मिर्ज़ा की शादी (Sania Mirza Marriage)

शोएब मलिक और सानिया मिर्ज़ा की प्रेम कहानी में के कठिनाईयां आई. इनकी पहली मुलाकात ऑस्ट्रेलिया में हुई(Sania Mirza Biography in Hindi). उनकी यह मुलाकात कोई इत्तेफाक नहीं था, शोएब ने प्लान करके सानिया से ऑस्ट्रेलिया में मुलाकात की थी. सानिया एक बार ऑस्ट्रेलिया के एक रेस्तरां में गई थीं, तब शोएब की टीम के एक मेंबर ने इस बात की सूचना शोएब को फोन कर दी और शोएब रेस्त्रां में आए फिर सानिया से मुलाकात की. इस मुलाकात को एक इत्तेफाक बताया गया लेकिन ये इत्तेफाक नहीं था. सानिया और शोएब जब अलग-अलग देशों में खेलते थे तभी उनकी मुलाकात होती थी.

शादी से पहले सानिया ने इस बात की चर्चा की कि उनके खेल को लेकर शोएब को शादी के बाद कोई आपत्ति तो नहीं रहेगी. शादी से पहले धर्म समाज के कई विवादों का सामना करना पड़ा. शादी के के समय दोनों परिवार बहुत परेशान थे. उन्हें लग रहा था कि शादी होगी होगी भी या नही. शादी की तारीख को आगे करने की सलाह दी गई लेकिन शोएब इस बात के लिए राजी नहीं हुए. शोएब ने कहा कि जब तक सानिया से शादी नहीं कर लेंगे यहां से कहीं नहीं जाएंगे. कई मुसीबतों का सामना करने के बाद दोनों ने अप्रैल 2010 में निकाह किया और शादी के पवित्र बंधन में बंध गए. 

सानिया मिर्ज़ा के अवार्ड्स (Awards of Sania Mirza)

2003 टाइटल विमबेल्डन चैंपियनशिप गर्ल्स डबल रूस की एलिशा क्लेयबनोवा के साथ
2004 एशिया टेनिस चैंपियनशिप में रनरअप
2005 पहली महिला खिलाड़ी जो कि यूएस ओपन में ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के चौथे राउंड में पहुंची थी.

यह ऑस्ट्रेलिया ओपन के तीसरे राउंड में पहुंची थी.

पहली महिला थी जिन्होंने डब्ल्यूटीए सिंगल टाइटल प्राप्त किया.

2006 दोहा एशियाई गेम में इन्होंने महिला की एकमात्र श्रेणी में सिल्वर मेडल जीता और मिक्स्ड युगल कैटेगरी में लिएंडर पेस के साथ खेलकर गोल्ड मेडल प्राप्त किया.
2007 यूएस ओपन में महेश भूपति के साथ मिक्स्ड युगल क्वार्टर फाइनल के तीसरे राउंड में पहुंची.
2008 चेन्नई के एमजीआर एजूकेशन और रिसर्च इंस्टीट्यूट यूनिवर्सिटी द्वारा डॉक्टर ऑफ़ लैटर से सम्मानित किया गया.

यह होबार्ट के क्वार्टर फाइनल में नंबर छह में पहुंची.

ऑस्ट्रेलिया ओपन में तीसरे राउंड में पहुंची इसके साथ आस्ट्रेलियाई ओपन के मिक्स्ड डबल्स में अपने पार्टनर महेश भूपति के साथ रनर अप बनी.

2009 ऑस्ट्रेलिया ओपन के मिक्स्ड युगल में महेश भूपति के साथ फर्स्ट ग्रैंड स्लैम टाइटल जीता, इसके बाद वे बैंकॉक के पटाया में महिला ओपन टूर्नामेंट में शामिल हुईं.
2014 तेलंगाना सरकार ने राज्य की ब्रांड अंबेसडर के लिए चुना.
2015 राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार

स्विस टेनिस प्लेयर मर्थिंगा हिंगिस के साथ खेलकर विमबेल्डन चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया.

2016 रिपब्लिक ऑफ इंडिया द्वारा तीसरा उच्च नागरिक सम्मान ‘पद्म भूषण’ से सम्मानित

सानिया मिर्ज़ा नेट वर्थ (Sania Mirza Net Worth)

$8 मिलियन

सानिया मिर्ज़ा की पसंदीदा चीजें (Favorite Things of Sania Mirza)

खाना  हैदराबादी बिरयानी 
अभिनेता  सलमान खान, अर्जुन रामपाल, अक्षय कुमार 
अभिनेत्री  काजोल, करीना कपूर 
फ़िल्म  कभी ख़ुशी कभी गम, क़यामत से कायामत तक, फूल और काटें, मोहरा, मैंने प्यार किया, कुछ कुछ होता है
खेल  टेनिस 
स्थान  लंदन, पेरिस, थाईलैंड 
रंग  लाल, नीला, काल 
स्ट्रेंग्थ  ग्राउंड स्ट्रोक 
पसंदीदा खिलाड़ी  स्टेफी ग्रेफ 

सानिया मिर्ज़ा के विवाद (Controversies of Sania Mirza)

1. सानिया मिर्ज़ा मुस्लिम धर्म से हैं और मुस्लिम में पर्दा प्रथा को मान्यता दी जाती है. इसलिए कुछ मुस्लिम धर्म के संगठन ने उनके टेनिस खेलते समय पहने जाने वाले शॉर्ट स्कर्ट पर आपत्ति जताई थी. समुदाय के लोगों का मानना था कि टेनिस की जो पोशाक है वह मुस्लिम धर्म के दायरे में नहीं आती है. फिर जमीयत उलेमा ए हिंद ने इस बात की पुष्टि की कि वह किसी को भी खेलने पर इस तरह प्रतिबंध नहीं लगा सकते.

2. साल 2008 में एक समारोह के दौरान राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे पर पैर रखने के कारण उन पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वारा सेक्शन 2 के तहत प्रिवेंशन ऑफ इंसल्ट एक्ट 1971 के तहत केस दर्ज हुआ.

3. सानिया की फोटोग्राफ एक सफेद राशन कार्ड पर थी जो परिवार को समाजिक सुरक्षा फायदे, हेल्थ बेनिफिट, हेल्थ इंश्योरेंस, उच्च सब्सिडी और चावल केवल ₹2 किलोग्राम पर उपलब्ध कराती है.

4- 2008 में एक 28 वर्षीय सिविल इंजीनियरिंग के विद्यार्थी मोहम्मद अशरफ को गिरफ्तार किया गया. वह सानिया को फोन पर धमकी दे रहा था कि वह अपनी सगाई सोहराब मिर्ज़ा के साथ तोड़ दें. अशरफ ने सानिया के घर बंजारा हिल्स में जाकर भी बहुत हंगामा किया. सानिया के पिता से इस सगाई को तोड़ने की धमकी दी. उसका कहना था कि वह सानिया से प्रेम करता है इसलिए इस रिश्ते को तोड़ते दें.

5- सानिया मिर्ज़ा और सोहराब मिर्ज़ा बचपन से एक दूसरे को जानते थे. इनकी सगाई हुई और फिर टूट गई. इस बात के लिए सानिया कहना था कि वह सिर्फ अच्छे दोस्त हैं हम शादी नहीं कर सकते हैं परंतु क्या एक भी बात का विषय बना.

6- पाकिस्तानी नागरिक से शादी करने के बाद सानिया के भारत का स्थानीय नागरिक होने के सवाल पर भी काफ़ी विवाद हुआ. तेलंगाना के एक राजनेता ने इन्हें राज्यसभा में ही पाकिस्तानी बहू करार कर दिया. जिसके बाद यह विवाद और बढ़ गया.

सानिया मिर्ज़ा ने टेनिस से सन्यास लेने का ऐलान किया (Sania Mirza Announced Retirement from Tennis)

भारतीय टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा ने घोषणा किया है कि वह मौजूदा सत्र के बाद खेल से संन्यास ले लेंगी. सानिया मिर्ज़ा के सन्यास की घोषणा ने टेनिस प्रेमियों को हैरान और परेशान कर दिया है. सोशल मीडिया पर जहां फैंस सानिया के रिटायरमेंट प्लान पर दिल दुखाने वाली फिलिंग्स बता रहे हैं, वहीं तमाम बॉलीवुड सेल्फी इस पर अपना रिएक्शन दे रहे हैं. 

ये भी पढ़ें

-पंडित बिरजू महाराज की जीवनी

-धनुष की जीवनी

-तिक रोशन की जीवनी

RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

%d bloggers like this: