Advertisements
Advertisements
Advertisements
Homeइनफार्मेशनलक्रिप्टोकरेंसी क्या है और इसके फायदे | Cryptocurrency meaning in Hindi

क्रिप्टोकरेंसी क्या है और इसके फायदे | Cryptocurrency meaning in Hindi

क्रिप्टोकरेंसी क्या है और इसके फायदे,क्रिप्टोकरेंसी, क्रिप्टोकरेंसी price, क्रिप्टोकरेंसी में निवेश, क्रिप्टोकरेंसी क्या है (Cryptocurrency Meaning in Hindi,Cryptocurrency in Hindi,Types of Cryptocurrency, Bitcoin, Litecoin, Peercoin, Ethereum, Dogecoin, Cryptocurrency Benefits,Loss,How to Buy,Legality)

Advertisements

Cryptocurrency meaning in Hindi, आज कल हर व्यक्ति इसके बारे में बात करता है क्योंकी आज इस तकनीक के ज़माने में हर व्यक्ति वक्त के साथ चलना चाहता है और अंगे बढ़ना चाहता है तो आज हम इस पोस्ट में जानेंगे की Cryptocurrency kya hai.

क्रिप्टोकरेंसी का अर्थ क्या है (Cryptocurrency Meaning in Hindi)

क्रिप्टो करेंसी(Cryptocurrency meaning) का मीनिंग हिंदी में “एन्क्रिप्शन मुद्रा” होता है. 

क्रिप्टोकरेंसी क्या है और इसके फायदे

क्रिप्टोकरेंसी क्या है (What is Cryptocurrency in Hindi)

क्रिप्टो करेंसी(What Is Cryptocurrency) एक डिजिटल मुद्रा है यह करेंसी एक इंक्रिप्टेड टेक्निक का इस्तेमाल करके बनाई गई है(Cryptocurrency meaning in Hindi). जिसका उपयोग करेंसी के यूनिट को  रेगुलेट करने के लिए किया जाता है. इंक्रिप्ट की मदद से क्रिप्टो करेंसी के ट्रांजैक्शन में पारदर्शिता लाई जाती है. आज के समय में लोग ऑनलाइन नेट बैंकिंग ऑनलाइन शॉपिंग जैसी कई सारी चीजों में ऑनलाइन पैसा उपयोग करते हैं जहां पर वह अपने बैंक अकाउंट क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड का उपयोग करते हैं.

Advertisements

ऐसी स्थिति में अगर उन्हें पैसों का लेनदेन करना हो तो उनके खाते में पैसे जमा होना जरूरी होता है इसी कारण से क्रिप्टोकरंसी आज के समय में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध हो गई है क्योंकि क्रिप्टो करेंसी खुद एक पूरी डिजिटल करेंसी है जिसके लिए आपको सिर्फ उसे खरीदना है और उस करेंसी की मदद से आप कोई भी डिजिटल ट्रांजैक्शन कर सकते हैं.(Cryptocurrency meaning in Hindi) आज के समय में मार्केट में कई सारी क्रिप्टो करेंसी है जैसे बिटकॉइन, लिब्रा कई प्रकार की क्रिप्टो करेंसी हैं जिनमें भारत की जिओ कॉइन भी शामिल है.

क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार (Types of Cryptocurrency)

  1. बिटकॉइन Bitcoin
  2. लाइटकॉइन Litecoin
  3. पीरकॉइन Peercoin
  4. एथेरेम Ethereum
  5. डौगीकॉइन Dogecoin

बिटकॉइन क्या है (What is Bitcoin)

बिटकॉइन(Bitcoin) क्रिप्टो करेंसी में बनने वाली सबसे पहली क्रिप्टो करेंसी है जिससे 2009 में संतोषी नाका मोटो(Santoshi Nakamoto) नाम के व्यक्ति ने बनाया था। यह करेंसी एक डिसेंट्रलाइज करेंसी है जिसका उपयोग आप ऑनलाइन कर सकते है क्योंकि बिटकॉइन पर किसी भी देश की कोई भी सरकार का कोई भी काबू नहीं.

लाइटकॉइन क्या है (What is Litecoin)

लाइट कॉइन(Litecoin) भी एक क्रिप्टो करेंसी है जोकि बिटकॉइन की तरह ही एक डिसेंट्रलाइज क्रिप्टो करेंसी है जिस पर किसी भी देश की सरकार का कोई काबू नहीं है. इसे गूगल के एंप्लोई रह चुके चार्ली ली नाम के व्यक्ति ने सन 2011 में बनाया था. बिटकॉइन को सफल बनाने में भी इन्होंने योगदान दिया था जिसके बाद इन्होंने लाइट कॉइन का निर्माण किया लाइटकॉइन बिटकॉइन से ज्यादा फास्ट काम करता है और यही कारण है कि लाइट कॉइन भी बिटकॉइन की तरह लोगों के बीच काफी प्रचलित है.

पीरकॉइन क्या है (What is Peercoin)

पीरकॉइन(Peercoin) भी एक डिसेंट्रलाइज क्रिप्टो करेंसी है इस पर भी किसी भी सरकार का कोई काबू नहीं है एवं पीरकॉइन हुबहू बिटकॉइन की तरह ही काम करता है एवं इसकी जो टेक्नोलॉजी है वह भी क्रिप्टो करेंसी से काफी मिलती जुलती है इस कारण से इसके ट्रांजैक्शन की जो इंक्रिप्शन है वह भी बिटकॉइन से मिलती जुलती है और यही कारण है कि पीरकॉइन को भी लोग बिटकॉइन की तरह ही पसंद करते हैं.

एथेरेम क्या है (What is Ethereum)

एथेरम(Ethereum) बिटकॉइन के बाद सबसे ज्यादा प्रसिद्धि पाने वाला एक क्रिप्टो करेंसी है यह क्रिप्टो करेंसी दसेंट्रलिइज ब्लॉकचेन की टेक्नोलॉजी पर बनी हुई एक क्रिप्टो करेंसी है. एथेरम क्रिप्टो करेंसी बिटकॉइन के बाद इस कदर प्रसिद्ध हुई है कि आज के समय में लोग बिटकॉइन से ज्यादा इथेरम करेंसी का उपयोग करना पसंद करते हैं.

डौगीकॉइन क्या है (What is Dogecoin)

डोगीकॉइन(Dogecoin) क्रिप्टो करेंसी बनने के पीछे एक बहुत ही रोचक कहानियां है। जिस समय पर बिटकॉइन क्रिप्टो करेंसी की की दुनिया में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध था और उसका नाम सबसे ज्यादा चल रहा था उस समय बिल्ली मरकुस नाम के व्यक्ति ने डोगी कॉइन नाम का एक करेंसी बनाया उनका मकसद पहले बिटकॉइन का मजाक बनाना था लेकिन डोगी कॉइन को इनकी प्रसिद्धि को देखते हुए डोगी कॉइन को एक क्रिप्टो करेंसी बना दिया गया जिसमें लाइटकॉइन की तरह इंक्रिप्शन की टेक्निक का उपयोग किया गया है और आज के समय में डोगी कॉइन बिटकॉइन की तरह ही उपयोग किया जाता है.

क्रिप्टोकरेंसी कैसे काम करता है (How Cryptocurrency Work)

क्रिप्टो करेंसी का लेनदेन पीयर टू पीयर तकनीक के इस्तेमाल से होता है(How Cryptocurrency work). इसका मतलब कि एक कंप्यूटर से दूसरे कंप्यूटर पर सीधे क्रिप्टो करेंसी का ट्रांसफर करना. क्रिप्टो करेंसी लोगों के पास एक ब्लॉकचेन की तरह भेजा जाता है और यह ठीक वैसे ही काम करता है जिस प्रकार बैंक अपने सभी लेन-देन का हिसाब रखता है ठीक उसी प्रकार क्रिप्टो करेंसी भी लेन-देन के सभी ट्रांजैक्शन का हिसाब रखते हैं.

दुनिया भर में हजारों बिटकॉइन माइनर बिटकॉइन(Bitcoin) के लेनदेन के ट्रांजैक्शन पर अपनी कड़ी नजर रखते हैं और इनके ट्रांजैक्शन के मैथमेटिक्स को समझाते हैं ऐसे लोगों को बिटकॉइन का माइनर कहा जाता है और इन्हीं की बदौलत बिटकॉइन आज के समय में सबसे ज्यादा सुरक्षित करेंसी है.

बिटकॉइन की माइनिंग करने वाले लोग एक तरह से बैंक के कलर की तरह होते हैं जिस तरह बैंक के क्लर्क बैंक खाते से होने वाले ट्रांजैक्शन का कैलकुलेशन करते हैं ठीक उसी प्रकार बिटकॉइन की माइनिंग(Bitcoin Minning) करने वाले लोग कोर्ट की भाषा में बिटकॉइन की ट्रांजैक्शन का कैलकुलेशन करते हैं ऐसे एक सफल ट्रांजैक्शन करने पर बिटकॉइन की माइनिंग करने वाले व्यक्ति को 12.5 बिटकॉइन दिया जाता है.

क्रिप्टोकरेंसी कैसे ख़रीदे (How to Buy Cryptocurrency)

आज के समय में क्रिप्टो करेंसी खरीदना बहुत ही आसान है(how to buy cryptocurrency). अगर आप क्रिप्टो करेंसी खरीदना चाहते हैं तो आपको क्रिप्टो करेंसी खरीदने के लिए ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप बिटकॉइन लाइट कॉइन पीरकॉइन को  यूनी कॉइन जेबपे बीटी एक्स इंडिया नाम की वेबसाइट पर से खरीद सकते हैं. इन वेबसाइट पर आपको सभी प्रकार की क्रिप्टो करेंसी मिल जाएंगी. जिन्हें आप अपने पैसों की मदद से खरीद सकते हैं. जिसके लिए आप क्रेडिट कार्ड डेबिट कार्ड या नेट बैंकिंग का इस्तेमाल भी कर सकते हैं.

क्रिप्टोकरेंसी भारत में लीगल है या नहीं (Is Cryptocurrency Legal in India or not)

क्रिप्टो करेंसी भारत में लीगल है या नहीं यह सवाल हर एक व्यक्ति के मन में है. तो इस सवाल का जवाब यह है कि क्रिप्टो करेंसी एक ऐसी करेंसी है जो कि डिसेंट्रलाइज डिजिटल करेंसी है.(Is Cryptocurrency Legal In India or Not). इस करेंसी पर किसी भी देश की किसी भी सरकार का कोई भी नियंत्रण नहीं है. इस कारण से इसे भारत की सरकार नेे ना तो बैन किया है और ना ही वह आपको इसे खरीदने से रोकती है.

इसलिए अगर आप चाहें तो कोई भी क्रिप्टो करेंसी खरीद सकते हैं लेकिन आपके अपने रिस्क पर, भारत सरकार का कहना है कि यह एक ऐसी करेंसी है जिस पर किसी भी सरकार का कोई काबू नहीं है. तो अगर आप ऐसी करेंसी में निवेश करते हैं और अगर आपको कोई नुकसान होता है तो इसकी जवाबदारी उनकी नहीं होगी. अगर आप क्रिप्टो करेंसी में निवेश करना चाहते हैं तो आप अपनी समझ और अपनी इच्छा अनुसार कर सकते हैं.

क्रिप्टोकरेंसी के फायदे (Benefits of Cryptocurrency)

क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल करेंसी है जिसे आप किसी भी देश में इस्तेमाल कर सकते हैं(Benefits of Cryptocurrency). क्रिप्टो करेंसी की कीमत सभी देशों में एक बराबर होती है क्योंकि इस पर किसी भी देश की कोई भी सरकार का हक नही है. क्रिप्टो करेंसी एक बहुत ही सिक्योर डिजिटल करेंसी है इसलिए इसका इस्तेमाल आप कहीं भी कर सकते हैं जिसमें आपको ऑनलाइन फ्रॉड होने की कोई चिंता नहीं है. चुकी क्रिप्टो करेंसी किसी भी देश की करेंसी नहीं है इसलिए इस पर किसी भी देश की आर्थिक स्थिति का कोई प्रभाव नहीं पड़ता.

क्रिप्टोकरेंसी के नुकसान (Cryptocurrency Loss)

चुकी बिटकॉइन एक डिजिटल करेंसी है और इस पर किसी भी देश की सरकार का कोई नियंत्रण नहीं है.(cryptocurrency loss) इसलिए इसके भाव में ज्यादा उछाल्या ज्यादा गिराव आ सकता है और यह ऐसा कारण है जिस कारण से अगर आप क्रिप्टो करेंसी में निवेश करते हैं तो आपको फायदा जितना हो सकता है उससे ज्यादा नुकसान भी हो सकता है.

क्रिप्टो करेंसी एक ऐसी करेंसी है जो कि 2 लोगों के बीच में उपयोग की जाती है इस कारण से इस करेंसी के उपयोग से किसी भी गलत प्रकार के कार्य भी किए जा सकते हैं जैसे कि हथियार खरीदने में क्रिप्टोकरंसी का इस्तेमाल किया जाना या ड्रग खरीदने में क्रिप्टो करेंसी का इस्तेमाल किया जाना और यही एक कारण है जिस कारण से सभी देशों की सरकार क्रिप्टो करेंसी खरीदने से हर एक नागरिक को मना करती है.

क्रिप्टो करेंसी(cryptocurrency) की सबसे बड़ी समस्या यह है कि अगर आपका क्रिप्टो करेंसी अकाउंट एक बार हैक हो जाता है तो आप अपनी क्रिप्टो करेंसी को वापस नहीं पा सकते. क्योंकि अगर किसी व्यक्ति ने एक बार आपके क्रिप्टो करेंसी अकाउंट को हैक कर कर उसका ट्रांजैक्शन कर लिया तो ट्रांजैक्शन किए हुए कॉइन कभी वापस नहीं आते.

 

ये भी पढ़ें ऋतिक रोशन की जीवनी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

%d bloggers like this: